ग्रेटर नोएडादिल्ली/एनसीआर

31वीं यूपी गर्ल्स वाहिनी एनसीसी, गलगोटियास यूनिवर्सिटी की सीनियर अंडर ऑफिसर खुशी कुमारी मॉस्को (रूस) में कैडेट यूथ एम्बेसडर के रूप में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगी

सभी क्षेत्रों में बेटियाँ अपने राष्ट्र (भारत) का गौरव बढ़ा रहीं हैंः सुनील गलगोटिया चॉसलर गलगोटियाज विश्वविद्यालय

31वीं यूपी गर्ल्स वाहिनी एनसीसी, गलगोटियास यूनिवर्सिटी की सीनियर अंडर ऑफिसर खुशी कुमारी को 20 अक्टूबर से 31 अक्टूबर 2023 तक मॉस्को रूस में कैडेट यूथ एम्बेसडर के रूप में भारत का प्रतिनिधित्व करने के लिए चुना गया है।
लेफ्टिनेंट गार्गी त्यागी एसोसिएट एनसीसी ऑफिसर ने कहा कि वह 31 यूपी गर्ल्स बीएन एनसीसी और गलगोटियास यूनिवर्सिटी से यूथ एक्सचेंज प्रोग्राम के लिए विदेश जाने वाली पहली कैडेट बनने जा रही हैं। यह हम सबके लिये बहुत ही अद्भुत पल हैं।
यूथ एक्सचेंज प्रोग्राम के लिए चयन गणतंत्र दिवस शिविर के दौरान किया जाता है, जिसके बाद अखिल भारतीय मेरिट सूची तैयार की जाती है और कैडेटों को उसके आधार पर संबंधित वाई ई पी (यूथ एक्सचेंज प्रोग्राम) पर आगे बढ़ने के लिए सौंप दिया जाता है।
भारतीय एन.सी.सी का 11 देशों के साथ जीवंत सैन्य आधारित और सांस्कृतिक आदान-प्रदान है।

ख़ुशी कुमारी का मॉस्को (रूस) में भारत का प्रतिनिधित्व करना अपने प्राँत उत्तर प्रदेश, अपने गलगोटिया विश्वविद्यालय और हम सभी के लिए एक प्रतिष्ठित क्षण होगा।
ख़ुशी के माता पिता ने भी बताया कि वह शुरुआत से ही सेना में जाना चाहती है। और एनसीसी ने उन्हें अपने सपनों को पूरा करने का एक माध्यम दिया है।

वाइस चांसलर डा० के० मल्लिकार्जुन बाबू ने ख़ुशी की इस बड़ी उपलब्धि पर शुभकामनाएँ देते हुए कहा कि अनुशासन की परिधि में रहकर कठिन परिश्रम करने से आपको ये महान उपलब्धि हासिल हुई है। अभी आगे भी आपने बहुत कुछ अच्छा करना है। पूरे विश्वविद्यालय की शुभकामनाएँ आपके साथ हैं।

विश्वविद्यालय से चॉसलर सुनील गलगोटिया ने खुशी को शुभकामनाएँ देते हुए कहा कि आज पूरी दुनिया में भारत की बेटियाँ राष्ट्र का गौरव बढ़ा रही हैं। आपने भी अपने कठिन परिश्रम से अपने राष्ट्र और अपने गलगोटिया विश्वविद्यालय का नाम रोशन किया है। आप अपने जीवन में नये नये कीर्तिमानों की स्थापना करें। ईश्वर से मेरी यही प्रार्थना है।

गलगोटियास विश्वविद्यालय के सीईओ डा० ध्रुव गलगोटिया ने खुशी की इस अंतरराष्ट्रीय उपलब्धि पर खुशी और उसके परिवार को ढेर सारी बधाई देते हुए कहा कि ख़ुशी का रूस में भारत का प्रतिनिधित्व करना गलगोटियाज़ विश्वविद्यालय के लिए एक गौरव का क्षण है! वहाँ पर उनको वहाँ की संस्कृति और सभ्यता को समझने का भी मौका मिलेगा और उनको दुनियाँ के बारे में जानने का एक सुअवसर भी प्राप्त होगा।

विश्वविद्यालय की डायरेक्टर ऑपरेशन आराधना गलगोटिया ने खुशी को शुभकामनाएँ दी और एनसीसी की कार्य प्रणाली के महत्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि एनसीसी ने भारत में युवाओं के चरित्र और व्यक्तित्व को आकार देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। युवाओं में अनुशासन, देशभक्ति और राष्ट्रीय गौरव की भावना पैदा करने के लिये एनसीसी संस्था भी धन्यवाद की पात्र है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button